SpreadIt News | Digital Newspaper

बड़ी खबर: यासीन मलिक को हुई उम्रकैद की सजा, आतंकियों को फंडिंग करने के दोषी, जानिए क्या है पूरा मामला?

बड़ी खबर: यासीन मलिक को हुई उम्रकैद की सजा, आतंकियों को फंडिंग करने के दोषी, जानिए क्या है पूरा मामला?

नई दिल्ली: प्रतिबंधित संगठन जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के प्रमुख यासीन मलिक को टेरर फंडिंग के एक मामले में एनआईए ने उम्रकैद की सजा सुनाई है।

Advertisement

इससे पहले दिल्ली एनआईए की एक अदालत ने सजा पर और फैसले पर रोक लगा दी थी। आरोप था कि एनआईए ने यासीन मलिक के लिए मौत की सजा की मांग की थी। सजा से पहले कोर्ट रूम के बाहर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

एजेंसी ने विशेष न्यायाधीश प्रवीण सिंह की अदालत में मलिक की मौत की सजा की मांग की थी।

Advertisement

 मलिक ने इससे पहले 10 मई को अदालत से कहा था कि वह अपने खिलाफ आरोपों का सामना नहीं करना चाहता। उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया और मलिक फिलहाल दिल्ली जेल में बंद है।

यासीन मलिक के वकील के मुताबिक उसकी संपत्ति का पता है। मलिक के पास 11 कनाल या लगभग 5564 वर्ग मीटर जमीन है, जो उनके पूर्वजों की बताई जाती है।

Advertisement

 इससे पहले गुरुवार को कोर्ट ने उन्हें टेरर फंडिंग के एक मामले में दोषी ठहराया था। यासीन मलिक ने सुनवाई के दौरान स्वीकार किया कि वह कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों में शामिल था।

मीडिया कर्मियों को अदालत में प्रवेश करने की अनुमति नहीं थी। मीडिया कर्मियों को सुनवाई के दौरान अदालत में प्रवेश करने की अनुमति नहीं है। उधर, कोर्ट में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे।

Advertisement