SpreadIt News | Digital Newspaper

LIC का IPO फ्लॉप होने के बाद सरकार का बड़ा निर्णय! पेट्रोलियम कंपनी की हिस्सेदारी बेचने का प्लान? जानिए इसके बारे में विस्तार से

LIC का IPO फ्लॉप होने के बाद सरकार का बड़ा निर्णय! पेट्रोलियम कंपनी की हिस्सेदारी बेचने का प्लान? जानिए इसके बारे में विस्तार से

 

Advertisement

नई दिल्ली: भारतीय जीवन बीमा निगम ( LIC IPO ) मंगलवार को बीएसई और एनएसई पर लिस्ट हुआ। यह देश के इतिहास का सबसे बड़ा आईपीओ था और लोगों को इससे बहुत उम्मीदें थीं लेकिन वे उम्मीदें धराशायी हो गईं और एलआईसी ने 9% गिरावट के साथ शुरुआत की। इस आईपीओ ने नाम बड़े और दर्शन छोटे की बात को सच साबित कर दिया।कल एलआईसी के आईपीओ पर तरह-तरह के मीम्स चलन में थे।

लिस्टिंग के दौरान एलआईसी की खराब हालत को लेकर सरकार काफी सतर्क नजर आ रही है। रॉयटर्स के मुताबिक, एलआईसी के शेयरों की खराब स्थिति को देखते हुए सरकार ने भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (बीपीसीएल) के शेयर बेचने के मूड में बदलाव किया है.

Advertisement

 

अधिकारियों के हवाले से रिपोर्ट में दावा किया गया है कि सरकार अब भारत पेट्रोलियम में 20-25 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की योजना बना रही है। सरकार ने पहले अपनी 52.98% हिस्सेदारी बेचकर 8-10 अरब डॉलर जुटाने की योजना बनाई थी। अब बदली हुई योजना के आधार पर बोलियों पर विचार किया जा रहा है। बातचीत अभी शुरुवाती चरण में है।

Advertisement

फिलहाल भारत पेट्रोलियम में हिस्सेदारी पर बातचीत शुरुआती चरण में है। ऐसे में सौदा अगले वित्त वर्ष में होने की संभावना है। बीपीसीएल में पूरी हिस्सेदारी बेचने की वापसी सरकार की निजीकरण नीति में धीमी प्रगति का संकेत है।

गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2020 में बैंकों, खनन कंपनियों और बीमा कंपनियों समेत ज्यादातर सरकारी कंपनियों के निजीकरण की योजना पर बात की थी. हालांकि ऐसा संभव नहीं हो पाया। आपको बता दें कि एलआईसी का शेयर मंगलवार को शेयर बाजार में इश्यू प्राइस से 8-9% की गिरावट के साथ लिस्ट हुआ था।

Advertisement