SpreadIt News | Digital Newspaper

श्रीलंका में चल रहे वित्तीय संकट के बीच बड़ा अपडेट, ‘यह’ नेता बने नए प्रधानमंत्री, क्या वे श्रीलंका को इस मुश्किलों से बच पाएंगे?

श्रीलंका में चल रहे वित्तीय संकट के बीच बड़ा अपडेट, ‘यह’ नेता बने नए प्रधानमंत्री, क्या वे श्रीलंका को इस मुश्किलों से बच पाएंगे?

कोलंबो: आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका को नया प्रधानमंत्री मिल गया है. यूनाइटेड नेशनल पार्टी के नेता रानिल विक्रमसिंघे को श्रीलंका के नए प्रधान मंत्री के रूप में नामित किया गया है।

Advertisement

श्रीलंका की 225 सदस्यीय संसद में रानिल विक्रमसिंघे की यूनाइटेड नेशनल पार्टी के पास केवल एक सीट है, लेकिन वह देश के प्रधानमंत्री बन गए हैं।

रानिल विक्रमसिंघे चार बार श्रीलंका के प्रधानमंत्री रह चुके हैं । अक्टूबर 2018 में तत्कालीन राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना द्वारा उन्हें प्रधान मंत्री के रूप में हटा दिया गया था।

Advertisement

लेकिन दो महीने बाद फिर उन्हें पद बहाल कर दिया गया था। विक्रमसिंघे को अंतरिम सरकार का नेतृत्व करने के लिए सभी पार्टियां का समर्थन प्राप्त है। उनकी सरकार छह महीने तक चल सकती है।

सूत्रों के अनुसार, सत्तारूढ़ श्रीलंकाई पोडुजा के पेरामुना (SLPP), विपक्षी समागी जन बालवेगया के एक यूनिट और कई अन्य दलों ने संसद में अपना बहुमत साबित करने के लिए विक्रमसिंघे का समर्थन किया है।

Advertisement

अलग पार्टी में होने के बावजूद रानिल विक्रमसिंघे श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाभाया राजपक्षे और महिंदा के करीबी माने जाते हैं। जानकार कह रहे हैं इसलिए उन्हें प्रधानमंत्री बनाया गया है.

Advertisement