SpreadIt News | Digital Newspaper

भाजपा की ‘इस’ महिला नेता की संदिग्ध हालात में मौत से हड़कंप, मरने से पहले रखे थे व्हाट्सएप स्टेटस, जानिए क्या है पूरा मामला?

भाजपा की ‘इस’ महिला नेता की संदिग्ध हालात में मौत से हड़कंप, मरने से पहले रखे थे व्हाट्सएप स्टेटस, जानिए क्या है पूरा मामला?

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में जिला पंचायत सदस्य श्वेता सिंह गौर का शव संदिग्ध हालत में लटका मिला है. इंद्रनगर स्थित उनके आवास पर साड़ी से गला घुंटने से मौत हुई।  श्वेता सिंह जिले के जसपुरा क्षेत्र के वार्ड 12 से भाजपा की जिला पंचायत सदस्य थीं.

Advertisement

 उनके पति दीपक सिंह गौर घर पर नहीं थे। उनका फोन भी बंद है। वह भी बीजेपी के नेता हैं. सूचना मिलते ही संबंधित थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू कर दी है। श्वेता सिंह ने बीती रात व्हाट्सएप स्टेटस पोस्ट करते हुए कहा था कि- घायल सांप, घायल बाघ और अपमानित महिला से हमेशा डरना चाहिए।

फिलहाल मामले की गंभीरता को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। मामले की जांच भी शुरू कर दी गई है। 35 वर्षीय श्वेता सिंह गौर भाजपा महिला मोर्चा की जिला महासचिव भी थीं। उन्होंने समाजशास्त्र में स्नातकोत्तर की पढ़ाई की।

Advertisement

इनकी तीन बेटियां हैं। एसपी अभिनंदन ने कहा कि वर्तमान में जिला पंचायत सदस्य श्वेता सिंह गौर ने अपने आवास पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. सूचना मिलते ही पुलिस, डॉग टीम व अन्य टीम मौके पर पहुंच गई।

मौके का मुआयना करने पर पता चला कि कमरा अंदर से बंद था। उसका और उसके पति के बीच कई दिनों से विवाद चल रहा था। ससुर पक्ष और मायके के बीच समझौता होने की बात चल रही थी।

Advertisement

आज भी उन दोनों में कहासुनी हो गई और गुस्से में आकर यह कदम उठाया। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस के मुताबिक, श्वेता सिंह की हत्या या आत्महत्या की रिपोर्ट आने के बाद ही यह स्पष्ट हो पाएगा।

Advertisement