SpreadIt News | Digital Newspaper

Electric Scooters की बैटरी में आग लगने का एक और गंभीर मामला, एक कि मौत और पत्नी और बच्चे गंभीर रूप से घायल, जानिए कहाँ और कैसे हुआ यह हादसा?

Electric Scooters की बैटरी में आग लगने का एक और गंभीर मामला, एक कि मौत और पत्नी और बच्चे गंभीर रूप से घायल, जानिए कहाँ और कैसे हुआ यह हादसा?

विजयवाड़ा: भारतीय बाजार में अब इलेक्ट्रिक वाहनों का चलन शुरू हो गया है. खासकर इलेक्ट्रिक टू व्हीलर। लेकिन हाल ही में कई ऐसी घटनाएं हुई हैं, जिन्होंने ग्राहकों के मन में डर पैदा कर दिया है।

Advertisement

पिछले कुछ दिनों में कई इलेक्ट्रिक स्कूटरों में आग लग गई है जिसमें कुछ लोगों की जान चली गई है। कुछ दिन पहले एक इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने से एक बुजुर्ग को अपनी जान गंवानी पड़ी।

अब ताजा मामला आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा से सामने आया है। इलेक्ट्रिक स्कूटर की बैटरी फटने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। जबकि उसकी पत्नी और दो बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए।

Advertisement

पता चला है कि इलेक्ट्रिक स्कूटर की बैटरी को पोर्टेबल थी। जिस वजह से इसे घर मे।लाकर भी चार्ज किया जा सकता था।  घटना के समय व्यक्ति के बेडरूम में बैटरी चार्ज की जा रही थी। ऐसी घटनाओं के मद्देनजर अब लोग अब इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने से डर रहे हैं।

एक दिन पहले खरीदा था स्कूटर
शिवकुमार की बैटरी में विस्फोट से मौत हो गई। जबकि पत्नी और दो बच्चे गंभीर रूप से झुलस गए हैं। धमाके की आवाज सुनकर आसपास के लोग मदद के लिए दौड़े और घायलों को फौरन अस्पताल ले गए जहां उनकी मौत हो गई।

Advertisement

प्राप्त जानकारी के अनुसार शिवकुमार ने शुक्रवार 22 अप्रैल को एक कॉर्बेट 14 इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदा था.

 कुछ दिन पहले निजामाबाद में एक प्योर इलेक्ट्रिक वाहन की बैटरी में आग लगने से 80 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई थी।

Advertisement

चाहे स्कूटर चल रहा हो या घर में बैटरी चार्ज हो रही हो, इलेक्ट्रिक स्कूटर में बैटरी के कारण आग लगने का खतरा होता है।

भारत सरकार सख्त
भारत सरकार ने इस मामले को देखने के लिए एक समिति का गठन किया है और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों के निर्माताओं को चेतावनी दी है कि यदि स्कूटरों की सुरक्षा में कोई समझौता पाया जाता है, तो कंपनी पर भारी जुर्माना लगाया जाएगा।

Advertisement