SpreadIt News | Digital Newspaper

आपके बच्चे ज्यादा सॉफ्ट ड्रिंक्स पीते है तो सावधान, ‘यह’ गंभीर स्वास्थ्य परिणाम का कारण है, जानिए सॉफ्ट ड्रिंक्स के घातक परिणाम

आपके बच्चे ज्यादा सॉफ्ट ड्रिंक्स पीते है तो सावधान, ‘यह’ गंभीर स्वास्थ्य परिणाम का कारण है, जानिए सॉफ्ट ड्रिंक्स के घातक परिणाम

स्वास्थ: गर्मियों का मौसम है। गर्मी में राहत पाने के लिए हम अक्सर खुद और अपने बच्चों को ठंडा पिलाते है। हालांकि लस्सी, शरबत आदि का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन हम में से कई लोग सॉफ्ट ड्रिंक पीने में जोर देते है। जिससे उनके स्वास्थ्य को परेशानी हो सकती है।

Advertisement

घर से लेकर ऑफिस तक लोग पार्टी फंक्शन में कोल्ड ड्रिंक पीना पसंद करते हैं। यह युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय है। ऐसा लगता है कि युवा लोगों को पार्टियों में या रोजमर्रा की जिंदगी में भी कोल्ड ड्रिंक पीने की आदत हो गई है।

हालांकि इन कोल्ड ड्रिंक्स का शरीर पर बहुत बुरा असर पड़ता है। दरअसल, यह न सिर्फ आपका वजन बढ़ाता है बल्कि आपके लीवर को भी नुकसान पहुंचाता है।

Advertisement

यह आपके चयापचय को भी परेशान करता है और इंसुलिन के खतरे को बढ़ाता है। इसके अलावा यह टाइप 2 मधुमेह का कारण बन सकता है। जानिए कोल्ड ड्रिंक पीने से सेहत को होने वाले नुकसान के बारे में…

शुगर बढ़ने का खतरा: जब आप खाना खाते हैं तो आप अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट और अन्य पोषक तत्वों का भी सेवन करते हैं लेकिन जब आप इसके साथ कोल्ड ड्रिंक लेते हैं तो ड्रिंक की शुगर भी आपके शरीर में चली जाती है और आपके शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है। इसलिए भोजन के साथ इसे कभी न पिएं।

Advertisement

वजन बढ़ने की समस्या: ज्यादातर लोग जानते हैं कि कोल्ड ड्रिंक्स से वजन बढ़ता है। सोडा और शीतल पेय में चीनी होती है जो तेजी से वजन बढ़ाने का कारण बनती है। एक नियमित कोका कोला में 8 बड़े चम्मच चीनी हो सकती है। कोल्ड ड्रिंक्स आपकी भूख को थोड़ी देर के लिए शांत कर सकते हैं लेकिन फिर आप ज्यादा खा लेते हैं।

दांतों की सड़न: शीतल पेय आपके दांतों के लिए बहुत हानिकारक होते हैं। सोडा में फॉस्फोरिक एसिड और कार्बोनिक एसिड होता है। जो लंबे समय में दांतों के इनेमल को खराब कर सकता है। चीनी के साथ एसिड आपके मुंह में बैक्टीरिया के पनपने के लिए सही वातावरण बनाते हैं। जिससे कैविटी हो सकती है।

Advertisement

हड्डियों की कमजोरी: शीतल पेय आपकी हड्डियों से कैल्शियम को अवशोषित करने का काम करते हैं। जो हड्डियों को कमजोर और भंगुर बनाता है। शीतल पेय में फॉस्फोरिक एसिड होता है जो हड्डियों से कैल्शियम को अवशोषित करता है।

हृदय रोग: लगातार वजन बढ़ने से हृदय रोग हो सकता है।  साथ ही सोडा में मौजूद तत्व आपको बीमार कर सकते हैं। सोडा में मौजूद सोडियम और कैफीन दिल के लिए बेहद खतरनाक होते हैं। सोडियम शरीर में तरलता को रोकने का काम करता है जबकि कैफीन हृदय गति और रक्तचाप को बढ़ाता है।

Advertisement