SpreadIt News | Digital Newspaper

गलत विदेश निति से इमरान खान की कुर्सी गई, नई सरकार में ‘यह’ नेता बन सकते है पाकिस्तान के नए विदेशमंत्री

इस्लामाबाद : पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो को नई सरकार में पाकिस्तान का नया विदेश मंत्री बनाए जाने की संभावना है।  9 अप्रैल की रात को पाकिस्तान की संसद के निचले सदन नेशनल असेंबली ने अविश्वास प्रस्ताव में इमरान खान को प्रधानमंत्री पद से हटा दिया।

जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, देश में प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति पद महत्वपूर्ण हैं। जबकि यह सवाल भी अहम है कि नई सरकार में विदेश मंत्री कौन होगा? क्योंकि इमरान खान सरकार की गलत विदेश नीति को लेकर एकजुट विपक्ष लगातार उन पर निशाना साध रहा है.

Advertisement

जियो न्यूज के मुताबिक पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो-जरदारी पाकिस्तान के अगले विदेश मंत्री हो सकते हैं। ब्रिटेन में ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी के 33 वर्षीय स्नातक बिलावल ने द इंडिपेंडेंट उर्दू को बताया कि पार्टी नए विदेश मंत्री के रूप में उनकी नियुक्ति पर फैसला करेगी।

बिलावल भुट्टो पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो और पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के बेटे हैं। वह पूर्व राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री जुल्फिकार अली भुट्टो के पोते हैं।

Advertisement

इमरान खान के नेतृत्व की आलोचना करते हुए बिलावल ने कहा कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ  सरकार ने विदेश मंत्रालय और राष्ट्रीय सुरक्षा समिति को विवादास्पद बना दिया है। नेशनल असेंबली में इमरान खान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान बिलावल ने पूर्व विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी पर हमला बोला और पूछा कि वह राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक में मौजूद क्यों नहीं हैं? बैठक में पीटीआई सरकार को उखाड़ फेंकने की तथाकथित विदेशी साजिश पर चर्चा हुई।

9 अप्रैल को इमरान खान की सरकार गिर गई। पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव में इमरान सरकार के खिलाफ 174 वोट पड़े। पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में 342 सीटें हैं और बहुमत 172 है। इस प्रकार, प्रधान मंत्री रहने के 3 साल 7 महीने बाद, इमरान खान को इस्तीफा देना पड़ा। वह अविश्वास प्रस्ताव से बेदखल होने वाले पहले पाकिस्तानी प्रधानमंत्री हैं।

Advertisement