SpreadIt News | Digital Newspaper

भारत सरकार के सोशल मिडिया अकाउंट भी नहीं है सुरक्षित, पिछले ५ सालों में इतने सरकारी खाते हुए हैक, आंकड़ा जानकर चौंक जाओगे 

भारत सरकार के सोशल मिडिया अकाउंट भी नहीं है सुरक्षित, पिछले ५ सालों में इतने सरकारी खाते हुए हैक, आंकड़ा जानकर चौंक जाओगे

नई दिल्ली: भारत समेत दुनिया के तमाम देशों में हर दिन हर तरह की हैकिंग होती रहती है।  हैकर्स कभी सरकार को निशाना बनाते हैं तो कभी आम जनता को। आए दिन लोगों के सोशल मीडिया अकाउंट हैक किए जाते हैं। कई बार प्रधानमंत्री जैसे बड़े नामों के सोशल मीडिया अकाउंट भी हैक हो जाते हैं। ज

Advertisement

ब आम आदमी हैकिंग का शिकार हो जाता है, तो साइबर सुरक्षा कंपनियां लोगों को डिजिटल दुनिया में सुरक्षित रहने की सलाह देती हैं, लेकिन जब सरकारी वेबसाइटों और सोशल मीडिया अकाउंट्स पर साइबर हमले होते हैं, तो मामला थोड़ा और गंभीर हो जाता है।

मंगलवार को लोकसभा में सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर के मुताबिक, पिछले पांच साल में केंद्र सरकार के 600 से ज्यादा सोशल मीडिया अकाउंट हैक हो चुके हैं. सरकार के ट्विटर हैंडल और ई-मेल अकाउंट हैकिंग के बारे में पूछे जाने पर ठाकुर ने कहा कि 2017 से अब तक 641 ऐसे अकाउंट हैक हो चुके हैं।

Advertisement

एक लिखित जवाब में उन्होंने कहा कि इस साल अब तक 2017 में कुल 175 अकाउंट, 2018 में 114, 2019 में 61, 2020 में 77, 2021 में 186 और 28 सरकारी सोशल मीडिया अकाउंट हैक हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि यह जानकारी भारतीय कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (सीईआरटी-इन) द्वारा इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) को उपलब्ध कराई गई है।

भविष्य में ऐसी हैकिंग को रोकने के लिए सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदमों के बारे में पूछे जाने पर मंत्री ने कहा कि साइबर सुरक्षा बढ़ाने के लिए सीईआरटी-इन की स्थापना की गई थी।  उन्होंने कहा कि सीएसआईआरटी समय-समय पर उपयोगकर्ताओं के लिए उनके डेस्कटॉप, मोबाइल/स्मार्टफोन की सुरक्षा और फिशिंग हमलों को रोकने के लिए सुरक्षा युक्तियाँ प्रकाशित करता है।

Advertisement