SpreadIt News | Digital Newspaper

कोविशील्ड टीके के दो खुराकों के बिच का अन्तर होगा कम, अब बस ‘इतने’ दिनों बाद दिया जाएगा दूसरा खुराक 

कोविशील्ड टीके के दो खुराकों के बिच का अन्तर होगा कम, अब बस ‘इतने’ दिनों बाद दिया जाएगा दूसरा खुराक

नई दिल्ली: पिछले साल शुरू हुए कोरोना टीकाकरण मोहिं ने भारत में काफी सफलता हासिल की। जिसका नतीजा यह रहा भारत में तीसरी लहर का असर उम्मीद से कम रहा। इसकी वजह टीकाकरण की वजह से बढे एंटीबाडीज है। हालाँकि देश में सबसे ज्यादा दी जाने वाली कोविशील्ड टीके के खुराक के दो डोस के बिच बहोत ज्यादा अन्तर है।

Advertisement

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इम्यूनाइजेशन, NTGI ने पहली खुराक के बाद 8 से 16 सप्ताह के बीच कोविशील्ड वैक्सीन की दूसरी खुराक देने की सिफारिश की है । वर्तमान में, कोविशील्ड की दूसरी खुराक राष्ट्रीय COVID-19 टीकाकरण रणनीति के हिस्से के रूप में पहली खुराक के 12-16 सप्ताह के बीच दी जाती है।

NTGI ने अभी तक भारत बायोटेक की कोवेक्सिन खुराक की अवधि में कोई बदलाव का संकेत नहीं दिया है, पहली खुराक के 28 दिन बाद दूसरी खुराक दी जा रही है। राष्ट्रीय कोविड -19 टीकाकरण कार्यक्रम में कोविद शील्ड की सिफारिश अभी तक लागू नहीं की गई है।

Advertisement

प्राप्त जानकरी के अनुसार, जब कोविशील्ड की दूसरी खुराक आठ सप्ताह के बाद दी जाती है, तो उत्पादित एंटीबॉडी प्रतिक्रिया लगभग 12 से 16 सप्ताह के अंतराल पर दी जाने वाली खुराक के समान होती है। इस निर्णय के फलस्वरूप शेष 6 से 7 करोड़ लोगों को इस का फायदा होगा। और उन्हें कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच कोविड शील्ड की दूसरी खुराक मिलेगी।

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक कोरोना वैक्सीन की 181 मिलियन से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं। कल 15 लाख 34 हजार 444 डोज दी गई, तब से अब तक 181 करोड़ 27 लाख 11 हजार 675 वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।

Advertisement