SpreadIt News | Digital Newspaper

PayTM की साढ़े साती नहीं हो रही कम, RBI के झटके बाद ‘इतने’ गिरे शेयर्स, निवेशकों को करोड़ों का नुकसान

PayTM की साढ़े साती नहीं हो रही कम, RBI के झटके बाद ‘इतने’ गिरे शेयर्स, निवेशकों को करोड़ों का नुकसान

नई दिल्ली: PayTM के लिए आज का साप्ताहिक कारोबार बहुत खराब रहा । पेटीएम के शेयर 12% गिरकर रु। 672 तक लपेटा गया था। यह पेटीएम के शेयरों का अब तक का सबसे निचला स्तर है। इससे पहले शुक्रवार को आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर नए ग्राहक जोड़ने पर रोक लगा दी थी। 

Advertisement

जिसका असर आज Paytm के शेयरों पर देखने को मिल रहा है।  आरबीआई ने आईटी (सूचना प्रौद्योगिकी) ऑडिट का भी आदेश दिया है। आरबीआई ने कहा कि वह आईटी ऑडिट रिपोर्ट देखने के बाद पेटीएम पेमेंट बैंक को नए ग्राहक जोड़ने की अनुमति देगा।

पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने एक ट्वीट में कहा कि वह आरबीआई की शर्तों को पूरा करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है। पेटीएम पेमेंट्स ने कहा: “प्रिय ग्राहकों, हम आपके साथ अपने संबंधों को महत्व देते हैं और हम आरबीआई की जरूरतों को पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। हमारे मौजूदा ग्राहकों को बिना किसी परेशानी के बैंकिंग सेवाएं मिलती रहेंगी।”

Advertisement

पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस के शेयर रु. 2,150 सूचीबद्ध थे लेकिन मूल्यांकन को लेकर लगातार चिंता बनी हुई है। ब्रोकरेज फर्म मैक्वेरी सिक्योरिटीज इंडिया ने पेटीएम के शेयर मूल्य लक्ष्य को घटाकर रु. 700 किया है।

मामले से परिचित एक सूत्र ने कहा कि पेटीएम पेमेंट्स बैंक इस साल मई-जून तक स्मॉल फाइनेंस बैंक के लिए आवेदन जमा कर सकता है। पेटीएम पेमेंट्स बैंक के चेयरमैन विजय शेखर शर्मा की कंपनी में 51 फीसदी हिस्सेदारी है। 

Advertisement

हालांकि, अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि आरबीआई ने कंपनी के खिलाफ कार्रवाई क्यों की है।आरबीआई ने अभी तक सिर्फ इतना कहा है कि कुछ पर्यवेक्षी चिंताओं को देखते हुए यह कदम उठाया गया है।

सीईओ गिरफ्तार

Advertisement

देश की राजधानी दिल्ली में अब पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा को लेकर एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा को दक्षिण दिल्ली में एक डीसीपी कार की चपेट में आने के बाद गिरफ्तार किया गया था, लेकिन बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया था। 

Advertisement