SpreadIt News | Digital Newspaper

9 महीनों से पहले पैदा हुए बच्चों की प्रतिरक्षा प्रणाली बढ़ाने के लिए इन बातों का रखे ध्यान, कभी बीमार नहीं होगा आपका बच्चा

अपने बच्चों की प्रतिरक्षा प्रणाली बढ़ाने के लिए इन बातों का रखे ध्यान, कभी बीमार नहीं होगा आपका बच्चा

कई बार प्रेग्नेंसी के दौरान खास देखभाल करने के बावजूद भी बच्चे समय से पहले पैदा हो जाते हैं। ऐसे बच्चे 36 सप्ताह में पैदा होते हैं और समय से पहले बच्चे कहलाते हैं। सामान्य रूप से पैदा होने वाले शिशुओं को अधिक देखभाल की आवश्यकता होती है।

Advertisement

समय से पहले शिशु की देखभाल बच्चे के जन्म के बाद इसे आवश्यकतानुसार कुछ दिनों के लिए नर्सरी या आईसीयू में रखना आवश्यक है। ऐसा कहा जाता है समय से पहले जन्मे बच्चों के शरीर के कुछ अंगों का ठीक से विकास नहीं हो पाता है।

विशेषज्ञों के अनुसार समय से पहले जन्म लेने वाले बच्चों का इम्यून सिस्टम काफी कमजोर हो सकता है ऐसा कहा जाता है कि ऐसे बच्चों में एंटीबॉडी की कमी होती है और इसीलिए इन बच्चों में वायरल इंफेक्शन का खतरा सबसे अधिक होता है।

Advertisement

जानकारों के मुताबिक ऐसे बच्चों का इम्यून सिस्टम धीरे-धीरे विकसित होता है और अगर इस दौरान खास देखभाल नहीं की गई तो वे काफी बीमार हो सकते हैं। ऐसे में इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए कई तरह के नुस्खे अपनाए जा सकते हैं। हम आपको इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के कुछ आसान से टिप्स बताने जा रहे हैं।

पोषण और देखभाल

Advertisement

नवजात को सीधे तौर पर खाना-पीना नहीं दिया जा सकता। इसके लिए मां को अपने खान-पान का खास ख्याल रखना पड़ता है। उसे ऐसी चीजें खानी चाहिए जो पोषण से भरपूर हों। हालांकि, 6 महीने के बाद बच्चे को कुछ ऐसी चीजें दी जा सकती हैं, जो पोषक तत्वों से भरपूर हों। स्तनपान के अलावा बच्चे को विटामिन सी से भरपूर आहार देना चाहिए।

संक्रमण से बचाव

Advertisement

ऐसे बच्चों की प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर होती है और उनमें संक्रमण का खतरा होता है। नवजात शिशु को अस्पताल से घर लाने के बाद साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। समय से पहले जन्मे बच्चों के लिए स्वच्छता भी महत्वपूर्ण है। ऐसा कहा जाता है कि समय से पहले जन्मे बच्चे को कुछ समय के लिए लोगों के संपर्क में नहीं आने देना चाहिए।

दैनिक मालिश

Advertisement

बच्चे की हर दिन ठीक से मालिश की जाए तो उसकी प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार होने लगता है। जानकारों के मुताबिक, बच्चे की ठीक से मालिश करने से बच्चे के सभी अंगों का ठीक से और तेजी से विकास होने लगता है। इसके लिए आवश्यक तेलों का उपयोग किया जा सकता है डॉक्टर भी बच्चे की मालिश करने की सलाह देते हैं। जन्म के बाद लगभग एक साल तक नियमित रूप से बच्चे की मालिश करना सबसे अच्छा है।

सूचना: उपरोक्त जानकारी सामान्य मान्यताओं पर आधारित है, इसलिए इस इसे अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह लेना न भूले।

Advertisement