SpreadIt News | Digital Newspaper

Russia Ukraine War: यूक्रेन पर हुए रूस के हमले में 137 लोगों की मौत; यूक्रेन ने भी दिया ‘ऐसा’ तगडा जवाब

कीव:

रूस ने बृहस्पतिवार को जल-थल और वायुमार्ग से यूक्रेन पर हमला कर दिया। यूक्रेन की सेना देश में तकरीबन हर इलाके में रूसी आक्रमण का मुकाबला कर रही है। रूसी विमान और हेलिकॉप्टर यूक्रेन के हवाई ठिकानों पर लगातार बम बरसा रहे हैं। रूस ने करीब 74 सैन्य ठिकानों और 11 हवाई ठिकानों को नष्ट करने का दावा किया है। रक्षा मंत्रालय ने भी यूक्रेन के वायु ठिकानों और सैन्य प्रतिष्ठानों पर कब्जा करने का दावा किया है। कीव से 90 किमी दूर चेर्नोबिल परमाणु संयंत्र पर भी -रूस का कब्जा हो गया है।

Advertisement

यूक्रेन के स्वास्थ्य मंत्री विक्टर ल्याशको ने बृहस्पतिवार को कहा था कि रूस के हमले में 57 यूक्रेनी नागरिक मारे गए हैं और 169 अन्य घायल हुए हैं। ल्याशको से मिली लेटेस्ट जानकारी के अनुसार पहले दिन की लड़ाई के बाद मरने वालों की संख्या 137 हो गई है। ल्याशको ने यह भी कहा कि यूक्रेन के अधिकारी देश की स्वास्थ्य सुविधाओं को फिर से तैयार कर रहे हैं ताकि शत्रुता के चलते हो रहे घटनाक्रम के बीच चिकित्सा सहायता की आवश्यकता वाले लोगों के लिए जगह बनाई जा सके।

रूस के हमले का अब यूक्रेन ने भी जवाब देना शुरू कर दिया है। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की का कहना है कि हम रूस के सामने सरेंडर नहीं करेंगे। रायटर्स से मिली जानकारी के मुताबिक यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय की तरफ से बयान जारी करते हुए कहा गया है कि यूक्रेन के सैनिकों ने रूस के 6 प्लेन मार गिराए हैं। इसके साथ ही यूक्रेन के 50 रूसी सैनिक मारे गए हैं और 2 टैंक भी नष्ट किए गए हैं।

Advertisement

यूक्रेन पर रूस के हमले के बीच NATO के महासचिव जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने कहा है कि अगर रूस ने इसी तरह से यूक्रेन पर हमला जारी रखा तो उसके हमले का जवाब देने के लिए हमने 100 से अधिक लड़ाकू विमानों को हाई अलर्ट पर रखा है। जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने कहा, हमारे पास अपने हवाई क्षेत्र की रक्षा करने के लिए 100 से अधिक लड़ाकू विमान और भूमध्‍य सागर तक समुद्र में 120 से अधिक युद्धपोत हाई अलर्ट पर हैं। उन्‍होंने कहा कि यूक्रेन में जिस तरह के हालात बने हुए हैं उसके बाद नाटो यूक्रेन के साथ पूरी ताकत और एकजुटता के साथ खड़ा है। नाटो के सभी सदस्‍य देश के साथ ही यूरोपीय संघ भी रूस पर कड़े प्रतिबंध लगा रहे हैं।हम सभी देश यूक्रेन के साथ खड़े है। हम अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था इस तरह के उल्लंघनों को कभी भी स्वीकार नहीं करेंगे।

Advertisement