SpreadIt News | Digital Newspaper

Russia-Ukraine Crisis: पुतिन को भारी पड़ सकता है ‘यह’ मास्टरस्ट्रोक; US-UK सहित कई देश एक्शन में आए

रूस और यूक्रेन के बीच चल रही तनातनी के बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पूर्वी यूक्रेन के दो विद्रोही और अलगाववादी इलाकों Donetsk और Lugansk की स्वतंत्रता को मान्यता दे दी है। पश्चिमी देशों की पाबंदी लगाने की चेतावनी के बावजूद रूसी राष्ट्रपति ने राज्य द्वारा संचालित टेलीविजन पर प्रसारित अपने भावनात्मक संबोधन में दोनों इलाकों की स्वतंत्रता की मान्यता दी। रूस के इस कदम से पश्चिमी देशों और यूक्रेन से तनाव बढ़ने की आशंका गहरा गई है।

यूक्रेन के साथ युद्ध जैसे हालात के बीच पूर्वी यूक्रेन के डोनेत्स्क (Donetsk) और लुहांस्क (Luhansk) को अलग देश के रूप में मान्यता देना रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) के लिए परेशानी बन सकता है। पुतिन भले ही इसे मास्टरस्ट्रोक समझ रहे हों, लेकिन इस फैसले पर जिस तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं, उससे साफ है कि रूस को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है।

Advertisement

रूस के इस फैसले से यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की पश्चिम देशों के बीच तनाव और बढ़ने की आशंकाएं गहरा गई है। राष्ट्रपति की सुरक्षा परिषद की बैठक के बाद पुतिन ने यह घोषणा की और इसी के साथ मॉस्को समर्थित विद्रोहियों और यूक्रेनी बलों के बीच संघर्ष के लिए रूस के सैन्य बल और हथियार भेजने का रास्ता साफ हो गया है।

रूस की घोषणा के बाद अमेरिका ने कहा कि वह जल्द ही यूक्रेन में रूस समर्थित दो अलगाववादी क्षेत्रों पर प्रतिबंध लगाएगा। अमेरिका ने तथाकथित डोनेत्सक और लुहांस्क पीपुल्स रिपब्लिक को ‘स्वतंत्र गणराज्य’ के रूप में मान्यता देने के पुतिन के फैसले की कड़ी निंदा की। अमेरिका ने अपने नागरिकों को इन दोनों ही अलगावादी क्षेत्रों निवेश-व्यापार करने से रोक दिया है। साथ ही और अधिक प्रतिबंध लगाने की बात कही है।

Advertisement

टेलीविजन पर पुतिन ने कहा, “मेरा मानना ​​​​है कि डोनेट्स्क पीपुल्स रिपब्लिक और लुगांस्क पीपुल्स रिपब्लिक की स्वतंत्रता और संप्रभुता को तुरंत पहचानने के लिए एक लंबे समय से लंबित निर्णय लेना आवश्यक है।”  क्रेमलिन में विद्रोही नेताओं के साथ पारस्परिक सहायता समझौतों पर हस्ताक्षर करने से पहले रूस के राष्ट्रपति ने यह बात कही।

Advertisement