SpreadIt News | Digital Newspaper

बडी खबर : चिकन खाने के पहले पढ़ लीजिए ‘यह’ खबर; महाराष्ट्र पहुंच चुका है ‘यह’ वायरस

मुंबई : 
देश में पिछले दो साल से कोरोना की बीमारी फैली हुई है, जिसमें कई लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। जबकि कई लोग अब भी अपनी जान कोरोना की वजह से गंवा रहे हैं। ऐसे में एक और बीमारी सिर पर चढ़ने लगी हैं, हाल ही में शाहपुर शहर में मुर्गियां मरती नजर आईं। महाराष्ट्र के ठाणे जिले में हाल में शाहपुर के एक कुक्कुट पालन केन्द्र (पोल्ट्री फार्म) में लगभग 100 पक्षियों की मौत के बाद बर्ड फ्लू के मामलों का पता चला है।

 

Advertisement

शाहपुर तालुका के वेहलोली में मुक्तजीवन सोसाइटी का एक पोल्ट्री फार्म है। पोल्ट्री फार्म के मालिक ने देखा कि मुर्गियां कई दिनों से मर रही थीं। उन्होंने देखा कि, मुर्गियों की मृत्यु दर बढ़ती जा रही थी, जिससे उनका डर और बढ़ रहा था। कई मुर्गियों की मौत के बाद उन्होंने इसकी खबर पशुपालन विभाग को दी। उन्होंने तुरंत मुर्गियों का निरीक्षण और जांच कि। जांच में सामने आया है कि मुर्गियों की मौत बर्ड फ्लू से हुई है।

एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। ठाणे जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) डॉ भाऊसाहेब डांगडे ने कहा,‘हाल में शाहपुर तहसील के वेह्रोली गांव के पोल्ट्री फार्म में लगभग 100 पक्षियों की मौत हो गई। उनके नमूने परीक्षण के लिए पुणे स्थित एक प्रयोगशाला में भेजे गए और परिणामों में पुष्टि हुई कि उनकी मौत एच5एन1 एवियन इन्फ्लूएंजा के कारण हुई थी।’’

Advertisement

पिछले साल फरवरी में ही महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू के केस तेजी से बढ़े थे जिसमें हजारों पक्षियों की मौत हो गई थी। पिछले साल जनवरी में शुरू हुई इस बीमारी पर फरवरी के आखिर तक लगाम लग सकी थी। इसके बाद नवंबर में एक बार फिर मध्य प्रदेश और राजस्थान में इस बीमारी ने चिंता बढ़ा दी थी।

उन्होंने कहा कि इसके बाद प्रभावित फार्म के एक किलोमीटर क्षेत्र में पोल्ट्री फार्मों में पाले जा रहे लगभग 25,000 पक्षियों को अगले कुछ दिनों में मार दिया जाएगा।

Advertisement