SpreadIt News | Digital Newspaper

ब्रेकिंग : संजय राउत को ईडी का सबसे बड़ा झटका; अब ‘उनके’ घर पर हुई रेड

मुंबई :

ईडी ने बुधवार को शिवसेना सांसद संजय राउत के करीबी सहयोगी प्रवीण राउत को एचडीआईएल कंपनीद्वारा म्हाडा से जुड़े भूमि घोटाले के सिलसिले में गिरफ्तार किया। प्रवीण राऊत की गिरफ्तारी संजय राऊत के लिये एक बड़ी समस्या होने जा रही है। ऐसे में और एक बडी खबर सामने आई है।

Advertisement

ईडी ने अब घोटाले में शामिल रहे और संजय राउत की बेटी की कंपनी के पार्टनर सुजीत पाटकर के आवास पर छापेमारी की है। प्रवीण राउत को जहां बुधवार को गिरफ्तार किया गया, वहीं अगले दिन गुरुवार को भी ईडी ने कार्रवाई जारी रखी. वही इसी 1034 करोड़ रुपये का भूमी घोटाला मामले में पाटकर के घर पर छापा मारा गया है।

सुजीत पाटकर ईडी की हिरासत में चल रहे प्रवीण राउत का सहयोगी है। कहा जाता है कि वाइन वितरक मैगपाई डीएफएस प्राइवेट लिमिटेड ने पाटकर और संजय राउत की बेटियों के साथ साझेदारी की है।

Advertisement

गुरुआशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड एचडीआईएल की सहायक कंपनी है। कंपनी को म्हाडा से गोरेगांव के पश्चिम में सिद्धार्थनगर में पात्रा चली के पुनर्विकास का ठेका मिला था।कंपनी के निदेशक प्रवीण राउत इस काम के लिए मध्यस्थ के रूप में काम कर रहे थे। लेकिन गुरुआशीष कंपनीने यह पुनर्विकास नहीं किया और जमीन एफएसआई को 1034 करोड़ रुपये में बाजार में बेच दिया।

ईडी की जांच में खुलासा हुआ है कि प्रवीण राउत ने म्हाडा अधिकारियों की मिलीभगत से यह बिक्री की। इसलिए बुधवार को ईडी ने राउत पर छापा मारकर उसे गिरफ्तार कर लिया।घोटाले से प्रभावित पीएमसी बैंक ने प्रवीण राउत के लीड से एचडीआईएल के माध्यम से गुरुआशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड को पैसा दिया। इसमें से 1.60 करोड़ रुपए प्रवीण राउत ने अपनी पत्नी माधुरी के खाते में ट्रांसफर किए।

Advertisement

1.60 करोड़ रुपये में से माधुरी ने 55 लाख रुपये ब्याज मुक्त कर्ज वर्षा राउत को दिए थे। उस पैसे से वर्षा ने दादर में एक फ्लैट खरीदा था। ये सभी घटनाक्रम 2010-11 के दौरान हुए। ईडी ने इसी मामले में वर्षा राउत से भी पूछताछ की थी। लेकिन फिर वर्षा राउत ने 55 लाख रुपये की रकम चुका दी।

Advertisement