SpreadIt News | Digital Newspaper

वाइन उद्योग में संजय राउत का बड़ा निवेश, ‘इस’ बड़े उद्यमी के साथ साझेदारी; किरीट सोमैया के आरोप

मुंबई :

शिवसेना सांसद संजय राउत और उनके परिवार का शराब उद्योग में भारी निवेश है। भाजपा नेता किरीट सोमैया ने खुलासा किया है कि संजय राउत की बेटियां और पत्नी दोनों एक शराब वितरण कंपनी में भागीदार हैं। संजय राउत के परिवार ने 16 अप्रैल 2021 को बिजनेसमैन अशोक गर्ग के साथ पार्टनरशिप की।

Advertisement

फिर 12 जनवरी, 2022 को अशोक गर्ग की कंपनी ने कंपनी मंत्रालय को सूचित किया कि वह अपना नाम और अपने व्यवसाय की प्रकृति को बदल रही है।इस कंपनी का नाम पहले मादक था। किरीट सोमैया ने दावा किया कि बाद में कंपनी का नाम बदलकर मैक पी कर दिया गया। वह रविवार को मुंबई में प्रेस कांफ्रेंस में बोल रहे थे।

अशोक गर्ग 2010 से दो कंपनियां चला रहे हैं। इन्हीं में से एक कंपनी शराब वितरण के कारोबार में है। अशोक गर्ग की कंपनी मुंबई और पुणे क्षेत्र के होटलों, क्लबों और पबों में शराब पहुँचाती है। इस कारोबार में अशोक गर्ग की कंपनी का एकाधिकार है, यह जानकारी किरीट सोमैया ने दी।

Advertisement

अशोक गर्ग का सालाना कारोबार करीब 100 करोड़ रुपए है। 16 अप्रैल 2021 को संजय राउत ने अशोक गर्ग के साथ पार्टनरशिप की। उनकी बेटी विधिता और पूर्वाशी राउत दोनों कंपनी में पार्टनर हैं।वाईन उद्योग में संजय राउत के निवेश से अब वह राज्य सरकार के फैसले का समर्थन कर रहे हैं। वे तर्क दे रहे हैं कि शराबवाईन शराब नहीं है, ऐसा किरीट सोमैया ने बताया।

Advertisement