SpreadIt News | Digital Newspaper

मुंडे भाई-बहन की लड़ाई में तीसरे को हुआ लाभ; जानें आखिर क्या हुआ बीड में

बीड: यह कहना बिलकुल गलत नहीं होगा कि, दो लोगों की लड़ाई में हमेशा तीसरा तीसरे व्यक्ति को लाभ होता है। ऐसा ही कुछ महाराष्ट्र की राजनीति में देखने को मिला। जैसे की हम सब जानते है महाराष्ट्र की पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे और उनके भाई मंत्री धनंजय मुंडे राजनीती में एक दूसरे के दुश्मन है। लेकिन इनकी लड़ाई में इस बार दोनों का  बड़ा नुकसान हुआ है।

दरअसल, पंकजा मुंडे और धनंजय मुंडे का बीड जिले में काफी प्रभाव है। लेकिन इसी बिच खबर है उन दोनों के प्रभाव वाले केज नगरपंचायत चुनाव में इन दोनों भाई-बहन को हार का सामना करना पड़ा। भाई-बहन की लड़ाई का लाभ कांग्रेस नेता और सांसद रजनीताई पाटिल को हुआ।

Advertisement

क्या है पूरा मामला ?

हाल ही में हुए नगर पंचायत चुनाव के नतीजे घोषित हो गए हैं।  नगर पंचायत चुनाव के नतीजे आने के बाद कहीं-कहीं त्रिशंकु स्थिति के चलते कुछ दल सत्ता स्थापित करने में लगे हैं।  केज नगर पंचायत में भी कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है।  इसका फायदा उठाकर कांग्रेस सांसद रजनीताई पाटिल ने जन विकास अघाड़ी के साथ केज नगर पंचायत में सत्ता स्थापित करने का फैसला किया है।

Advertisement

कांग्रेस सांसद रजनीताई पाटिल के इस फैसले से पंकजा मुंडे और धनंजय मुंडे को तगड़ा शॉक मिला है। सामाजिक न्याय मंत्री धनंजय मुंडे के करीबी राकांपा के जिलाध्यक्ष बजरंग सोनवणे ने दावा किया था कि केज नगर पंचायत में सत्ता स्थापित करने के लिए वह चाहे कुछ भी करना पड़े हम करेंगे लेकिन हमारी सत्ता जरूर लाएंगे।

धनंजय मुंडे के झटका 

Advertisement

कांग्रेस के आदित्य पाटिल ने कहा कि स्थानीय राकांपा (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी) गंदी राजनीति कर रही है, हम केज के नागरिकों के विकास के लिए साथ आए हैं और हम सांसद रजनीताई पाटिल के मार्गदर्शन में शहर का विकास दिखाएंगे।  पाटिल ने आगे कहा, “भले ही हम महाविकास अघाड़ी में एकजुट हैं, लेकिन हमने स्थानीय मुद्दों पर ध्यान रखते हुए राकांपा को दूर रखा है।”

पंकजा मुंडे को भी झटका 

Advertisement

भाजपा नेता पंकजा मुंडे ने एक सार्वजनिक भाषण में कहा था कि जन विकास अघाड़ी भाजपा द्वारा प्रायोजित है और भाजपा का ही एक नेता नगराध्यक्ष बनेगा। लेकिन इस कथन का स्वयं जनविकास अघाड़ी के प्रमुख हारून इनामदार ने विरोध किया था।  भाजपा प्रायोजित गठबंधन का दावा गलत है, इस बात की पुष्टि उन्होंने की।

Advertisement