SpreadIt News | Digital Newspaper

Tilkut Chauth : तिलकुट चौथ के दिन मत करो ये काम; पडेगा महंगा, जानिए विस्तार से!

हिंदू धर्म में त्योहारों, ऋतुओं और तिथियों का विशेष महत्व है। अनादि काल से हम इससे जुड़ी चीजों, रीति-रिवाजों का पालन करते रहे हैं। उपवास भी शरीर के लिए जरूरी है। और हमारे हिंदू धर्म में उपवास का भी विशेष महत्व है।

हर साल मकर संक्रात के बाद तिलकुट चौथ आता है। इस साल तिलकुट चौथ का व्रत शुक्रवार 21 जनवरी को है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार संकट चतुर्थी के दिन श्रीगणेश का सच्चे मन से व्रत करने वाले भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी होती है।

Advertisement

पहले हम तिलकुट चौथ के बारे में जान ले :-

माघ मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को तिलकुट चौथ कहा जाता है। सनातन धर्म की शुरुआत से ही तिलकुट चौथ का अपना महत्व है। इस दिन गंगा स्नान, दान देने और सूर्य की पूजा करने के अलावा भगवान गणेश की पूजा का विशेष महत्व है।

Advertisement

क्या होता है फायदा :-

खासतौर पर महिलाएं संतान की लंबी उम्र और सुरक्षा के लिए व्रत रखती हैं। इस दिन पूरे दिन उपवास रखने और चंद्रमा को देखने के बाद ही खाना खाने से यह व्रत पुरा हो जाता है।

Advertisement

संकष्टी चतुर्थी पर न करें ये काम :-

1) गणपति पूजा में गलती से भी तुलसी नहीं चढ़ाएं।

Advertisement

2) लहसुन और प्याज का सेवन नहीं करना चाहिए।

3) मांस और शराब का सेवन नहीं करना चाहिए।

Advertisement

4) बड़े लोगो का अपमान नहीं करना चाहिए।

क्या करे :-

Advertisement

1) सूर्योदय से पहले स्नान करना शुभ माना जाता है।

2) किसी भी जानवर या पक्षी को अनाज खिलाना चाहिए।

Advertisement

(नोट : यहां दी गई जानकारी धार्मिक मान्यताओं और लोककथाओं पर आधारित है, जिसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। इसे आम जनता के हित में प्रस्तुत किया गया है।)

Advertisement