SpreadIt News | Digital Newspaper

कश्मीरी नेता फारुख अब्दुल्ला का मोदी सरकार को सनसनीखेज सवाल, जानिए पूरी खबर 

नई दिल्ली: कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने मोदी सरकार को एक सवाल पूछ कर सनसनी पैदा की है। उन्होएँ सरकार से पूछा, “आप चीन से क्यों नहीं लड़ते?”

पाकिस्तान से करे बातचीत 

Advertisement

उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि वह श्रीनगर में एक आतंकवादी हमले में मारे गए दो पुलिसकर्मियों के मारे जाने के बाद क्षेत्र में शांति बहाल करने के लिए पाकिस्तान के साथ बातचीत करे। उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान को अपना अहंकार छोड़ देना चाहिए और बातचीत का मार्ग प्रशस्त करना चाहिए। केंद्र सरकार को उनका संदेश है कि घाटी में शांति बहाल करने के लिए केंद्र सरकार को जम्मू-कश्मीर के लोगों का दिल और दिमाग दोनों जीतना चाहिए।

श्रीनगर में २ पुलिसकर्मियों की हुई मौत 

Advertisement

कुछ दिनों पहले जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में  आतंकियों ने सशस्त्र पुलिस बस पर हमला किया था। इस घटना में दो पुलिसकर्मियों की मौत हो गई और 12 अन्य घायल हो गए। हमलावर ने दोपहर के बाद पुलिस थाने के सामने धमाका किया था।

कश्मीरियों का दिल-दिमाग दोनों जीतना होगा 

Advertisement

पता चला है कि उस समय बस में 25 पुलिसकर्मी सवार थे। फारूक अब्दुल्ला ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा पर एक किताब के उद्घाटन के मौके पर मिडिया पर बोल रहे थे। उन्होंने वहां संवाददाताओं से कहा, “हमला बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। सबसे पहले हम हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देते हैं। अगर केंद्र सरकार ने लोगों का दिल और दिमाग नहीं जीता तो ऐसा होता रहेगा।” उन्होंने कहा आगे कि ऐसे हमलों पर जल्द से जल्द काबू पाने की जरूरत है।

उन्होंने आगे कहा, “जब चीन की और से ऐसे हमले होते है तब हम उनसे लड़ने के बजाय बातचीत कर के मसले सुलझाने की कोशिश करते है। आप क्यों चीन से भी नहीं लड़ते ? कुछ इसी तरह हमें पाकिस्तान के साथ अपना रव्वैया अपनाना होगा। बातचीत से ही शांति लाई जा सकती है।”

Advertisement