SpreadIt News | Digital Newspaper

कांग्रेस ने कोरोना पीड़ितों के परिवारों के लिए शुरू किया सोशल मीडिया अभियान, जानिए विस्तार से

नई दिल्ली: पिछले साल से देहसभर में कोरोना ने काफी तबाही मचाई है। कोरोना की वजह से लाखो भारतियों को अपनी जान गंवानी पड़ी। इसी बिच कोरोना महामारी में जान गंवाने वालों के परिवारों को मुआवजा देने के लिए कांग्रेस ने सोशल मीडिया अभियान शुरू किया है। सोशल मीडिया पर इस अभियान के साथ कांग्रेस ने कोरोना से मरने वालों के परिवारों के लिए 4 लाख रुपये मुआवजे की मांग की है। 

हैशटैग ‘स्पीकअप फॉर कोविड न्याय ‘ अभियान

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी के प्रचार अभियान के तहत हैशटैग ‘स्पीक फॉर कॉविड न्याय’ के साथ ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, “जब लोगों के दर्द और नुकसान की बात आती है तो भारत सरकार सोती है। चलो उसे जगाओ।”

Advertisement

Advertisement

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा, “भाजपा सरकार ने न तो कोरोना से हुई मौतों की सही संख्या जारी की है और न ही मृतकों के परिवारों को कोई मुआवजा दिया है।” उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया। ट्वीट में उन्होंने लिखा, “नरेंद्र मोदी जी, लाखों भारतीयों के दर्द और भावनाओं को असंवेदनशीलता के जूतों में रौंदने न दें। मृतक के परिजनों को मुआवजा दें।”

मृतकों के परिवारों के लिए 4 लाख की मांग

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा, “अगर सरकार के पास कोविड से हुई मौत के आंकड़े नहीं हैं तो पूरा देश सरकार के साथ इस आंकड़े को शेयर करने को तैयार है। देश के पास धन की कोई कमी नहीं है। असली मुद्दा यह है कि सरकार कोविड पीड़ितों के परिवारों की मदद करने के अपने इरादे में विफल हो रही है।” उन्होंने आगे कहा, “हम महामारी में मारे गए लोगों के परिजनों के लिए चार लाख रुपये की मांग करते हैं।”

Advertisement

कांग्रेस ने संसद में भी उठाई यह मांग

मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कांग्रेस पार्टी ने कहा, “मोदी सरकार ने उचित राशि की भरपाई के लिए सावधानीपूर्वक रास्ता खोजने की कोशिश की है और 50,000 रुपये की मामूली राशि का भुगतान करके समझौता करने की कोशिश कर रही है।”  कांग्रेस पार्टी ने यह मांग संसद में भी उठाई है।

Advertisement