SpreadIt News | Digital Newspaper

कोरोना के नए वेरिएंट का प्रभाव, कच्चे तेल की कीमतों में 10 फीसदी से ज्यादा की गिरावट

विश्व : कोरोना के नए वेरिएंट के सामने आने के बाद से दुनिया एक बार फिर से सदमे में है। नए वेरिएंट के आने के बाद से कच्चे तेल की कीमतों में 10 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है। अप्रैल 2020 के बाद यह एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट है। दुनिया भर के शेयर बाजारों में भी आज भारी गिरावट देखने को मिल रही है।

विश्व बाजारों में गिरावट

नए वेरिएंट की वजह से आज ग्लोबल स्टॉक मार्केट में भारी बिकवाली देखने को मिल रही है। रात 11 बजे अमेरिकी इंडेक्स डाउ जोंस 2.36 फीसदी गिर गया। सेंसेक्स भी आज 2.9 फीसदी की तेजी से गिरा। सेंसेक्स 1,688 अंक गिरकर 57,107 पर बंद हुआ।

Advertisement

निवेशकों ने एक ही दिन में 7.45 लाख करोड़ रुपये डूबे

शुक्रवार को शेयर बाजार सात महीने के उच्चतम स्तर पर आया था। बाजार में आज 12 अप्रैल के बाद सबसे बड़ी गिरावट देखी गई। सेंसेक्स-निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई से 8% नीचे है। शेयर बाजार में सात महीने में सबसे बड़ी गिरावट से निवेशकों को कुल 7.45 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। कई देशों में नए प्रकार के कोरोना वायरस पाए गए हैं और इससे व्यापर पर बुरा प्रभाव पड़ा है। 

बॉन्ड बाजार पर भी बढ़ा दबाव

इसके अलावा बॉन्ड बाजार में भी भारी बिकवाली देखने को मिल रही है। 10 साल के अमेरिकी बॉन्ड यील्ड में फिलहाल 8.42 फीसदी की गिरावट है। इसके अलावा वैश्विक बाजार में भी सोने की कीमतों में सुधार देखने को मिला है।

Advertisement