SpreadIt News | Digital Newspaper

उपचुनाव: आज देशभर में उपचुनाव, कांग्रेस-भाजपा में है सीधी जंग

नई दिल्ली: दिवाली से पहले आज 13 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में उपचुनाव हो रहे हैं। कुल मिलाकर, मतदाता 29 विधानसभा और 3 लोकसभा सीटों पर अपने लोकतांत्रिक अधिकारों का इस्तेमाल करेंगे। यह समय से पहले का चुनाव इस वजह से है कि केंद्र में चुने गए ज्यादातर विधायक बीजेपी में शामिल हो गए हैं।  उपचुनाव में मतगणना मंगलवार को होनी है। 

इन ३ लोकसभा सीटों पर है उपचुनाव 

Advertisement

इस उपचुनाव में मतदाता तीन लोकसभा क्षेत्रों हिमाचल प्रदेश के मंडी, मध्य प्रदेश के खंडवा और दादरा एवं नगर हवेली में अपना वोट डालेंगे। इन तीनों केंद्रों पर सांसदों की अचानक मौत से वोटिंग हो रही है।  मंडी भाजपा सांसद रामस्वरूप शर्मा और खंडवाड़ भाजपा सांसद नंद कुमार सिंह चौहान का मार्च में निधन हो गया। दादरा से निर्दलीय सांसद मोहन देलकर ने कथित तौर पर आत्महत्या कर ली।

बंगाल का उपचुनाव 

Advertisement

बंगाल की चार विधानसभा सीटों पर आज उपचुनाव हो रहे हैं।  इनमे  दिनहाटा, खरादहा, गोसाबा और शांतिपुरशामिल है। 2021 में दिनहाटा से बीजेपी सांसद निशीथ प्रमाणिक जीते और शांतिपुर से बीजेपी के एक अन्य सांसद जगन्नाथ सरकार जीते।  लेकिन नतीजे आने के बाद दोनों ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया।  गोसाबा और खरदाहा में तृणमूल प्रत्याशी जीते। खरदा काजल सिन्हा की परिणाम जारी होने से पहले ही कोरोना से उनकी मौत हो गई थी और कुछ दिन पहले गोसाबा विधायक जयंत नस्कर की मौत हो गई थी।  बीजेपी के लिए सबसे बड़ी चुनौती विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद जीती सीटों को बरकरार रखना है। 

आसाम उपचुनाव 

Advertisement

असम की 5 सीटों पर भी विधानसभा चुनाव होने हैं। गोन्साइगा, तमुलपुर, मरियानी, थूरा और भबानीपुर में चुनाव होंगे। इन विधानसभा सीटों पर मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है। 2021 के चुनाव में असम की जीत के बाद बीजेपी का मुख्य लक्ष्य इन सीटों पर जीत हासिल करना है। 

राजस्थान में भी चुनाव हैं। कांग्रेस शासित राज्य के वल्लभनगर और धारियाबाद में चुनाव होंगे। चुनाव मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कांग्रेस नेता सचिन पायलट के बीच होगा। वल्लभनगर कांग्रेस के हाथ में था और धारियाबाद में बीजेपी की जीत हुई थी।  इन दोनों उपचुनावों के नतीजों का सभी को बेसब्री से इंतजार है।

Advertisement