SpreadIt News | Digital Newspaper

गैरी कर्स्टन पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कोच बनने की दौड़ में सबसे आगे

इस्लामाबाद:टी20 वर्ल्ड कप २०२१ में पाकिस्तान क्रिकेट टीम के प्रदर्शन ने सबका ध्यान खींचा है।  इस बीच, पीसीबी ने 2023 विश्व कप की तैयारी शुरू कर दी है। पीसीबी ने बाबर आजम की कप्तानी वाली टीम के लिए लंबी अवधि के लिए विदेशी कोच की तलाश शुरू कर दी है। यहां तक ​​कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने भी कई नामों पर विचार करना शुरू कर दिया है। उनमें से पहले दक्षिण अफ्रीका के पूर्व सलामी बल्लेबाज गैरी कर्स्टन हैं।

गैरी ने 2011 में भारत के कोच के रूप में विश्व कप जीता था। गैरी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एक सफल कोच हैं। भारत के लिए विश्व कप जीतने के अलावा गैरी को लंबे समय तक टीम इंडिया की कोचिंग में भी काफी सफलता मिली है।

Advertisement

कर्स्टन के अलावा पाकिस्तान की नजर दो और विदेशी कोचों पर है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज साइमन कैटिच और इंग्लैंड के पूर्व कोच पीटर मूर। सफलता के मामले में गैरी के करीब कोई नहीं है। साइमन कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ-साथ रॉयल चैलेंजर्स के बल्लेबाजी कोच भी रहे हैं। दूसरी ओर, पीटर मूर ने इंग्लैंड की राष्ट्रीय टीम को कोचिंग दी।

टी20 वर्ल्ड कप से पहले मिस्बाह-उल-हक ने पाकिस्तान की राष्ट्रीय टीम के कोच पद से इस्तीफा दे दिया था। साथ ही वकार यूनिस ने भी गेंदबाजी कोच के पद से इस्तीफा दे दिया है। पीसीबी ने पूर्व स्पिनर सकलैन मुस्ताक को अंतरिम कोच के तौर पर दुबई भेजा है।

Advertisement

पूर्व ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक को गेंदबाजी देखने की जिम्मेदारी दी गई है।  ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्टार मैथ्यू हेडन पाकिस्तान टीम के साथ बल्लेबाजी सलाहकार भी हैं। गेंदबाजी सलाहकार पूर्व प्रोटियाज क्रिकेटर वेरोन फिलेंडर हैं। मौजूदा टी20 वर्ल्ड कप में अच्छा प्रदर्शन करने पर हेडन और फिलेंडर की जिम्मेदारियां बढ़ सकती हैं। लेकिन पाकिस्तान को एक पूर्णकालिक कोच भी चाहिए।

Advertisement