SpreadIt News | Digital Newspaper

पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वालों पर होगा देशद्रोह का मामला दर्ज, योगी सरकार ने दिए निर्देश

लखनऊ: भारत-पाकिस्तान क्रिकेट हर बार एक अलग आयाम लेकर आता है।  बाईस गज की यह लड़ाई खेल प्रेमियों के साथ-साथ राजनेताओं के लिए भी ताकत प्रदर्शन का विषय बन गई है। रविवार को भारत की हार के बाद यह सिलसिला और भी बढ़ गया है। 

देशद्रोह का मामला 

Advertisement

इस बीच, पाकिस्तान की जीत के बाद जश्न मनाने की अलग-अलग घटनाएं हुई हैं। लेकिन इस बार उत्तर प्रदेश सरकार ने सख्त कार्रवाई की है। उत्तर प्रदेश पुलिस को रविवार के मैच में पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वालों के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज करने का निर्देश दिया गया है।

७ लोगों के खिलाफ मामल दर्ज, चार गिरफ्तार 

Advertisement

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यालय के एक ट्वीट ने कुछ अखबारों की रिपोर्टों की तस्वीरें साझा करते हुए कहा कि जो लोग पाकिस्तान की जीत के बाद उन्माद में थे, उन पर देशद्रोह का आरोप लगाया जाएगा। पुलिस ने अब तक उत्तर प्रदेश के पांच जिलों के कुल सात लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की है।  पाकिस्तान समर्थक नारे लगाने और पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने के आरोप में पुलिस पहले ही उनमें से चार को हिरासत में ले चुकी है।

महबूबा मुफ्ती ने दिया था विवादित बयान 

Advertisement

कुछ दिन पहले जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी की नेता ने  ट्वीट किया था, उन्होंने लिखा, ‘अगर कश्मीरी पाकिस्तान की जीत से अभिभूत हैं, तो वे इतने गुस्से में क्यों हैं? कुछ लोग हत्या के भी नारे लगाते हैं?”

महबूबा मुफ्ती के इस ट्वीट के बाद हरियाणा बीजेपी नेता अनिल विज ने उन पर पलटवार किया। उनके मुताबिक महबूबा मुफ्ती के डीएनए में दिक्कत है। उन्हें यह साबित करना होगा कि वह कितने सच्चे भारतीय हैं।”

Advertisement

इससे कुछ देर पहले अनिल विज ने ट्वीट किया था, ‘जब पाकिस्तान जीतता है, तब जो कोई भारत में आतिशबाजी करता है, तो उसका डीएनए कभी भी भारतीय डीएनए नहीं हो सकता। अपने क्षेत्र में छिपे देशद्रोहियों को पहचानो।”

Advertisement