SpreadIt News | Digital Newspaper

Covaxin की खुराक प्राप्त नागरिक बिना क्वारंटाइन के कर सकते हैं ओमान में प्रवेश

नई दिल्ली: इंडिया बायोटेक द्वारा उत्पादित कोरोना वैक्सीन कोवाक्सिन (Covaxin) की खुराक प्राप्त नागरिकों को ओमान में प्रवेश करने में ढील दी गई है। अब से विदेश से पूरी वैक्सीन लेकर ओमान जाने वालों को उस देश में पहुंचने के बाद अब क्वारंटाइन में नहीं रहना पड़ेगा। कोवाक्सिन वैक्सीन के प्राप्तकर्ता बिना क्वारंटाइन के ओमान में प्रवेश कर सकते हैं। जानकारों का मानना ​​है कि इस नए नियम से उन लोगों को काफी फायदा होगा जो भारत से ओमान जाएंगे।

मस्कट में भारतीय दूतावास ने आज कहा, “कोवाक्सिन को अब क्वारंटाइन के बिना ओमान में प्रवेश करने के लिए योग्य टिकों की सूची में जोड़ा गया है। इस फैसले से भारत से आने वाले यात्रियों को काफी फायदा होगा.”

Advertisement

भारतीय दूतावास ने जारी किया बयान

भारतीय दूतावास ने एक बयान में कहा कि ओमान पहुंचने से कम से कम 14 दिन पहले भारत से जिन यात्रियों को कोवाक्सिन की दो खुराक मिली थी, उन्हें अब क्वारंटाइन की जरूरत नहीं है। वे बिना क्वारंटाइन के ओमान की यात्रा कर सकते हैं। हालांकि अन्य सभी कोरोना संबंधित शर्तें, जैसे कि आगमन से पहले RTPCR टेस्ट, पहले की तरह ही लागू होंगी।

Advertisement


ओमान सरकार ने लिया अहम फैसला 

Advertisement

ओमान सरकार ने कहा है कि कोविशील्ड प्राप्तकर्ताओं के लिए अनिवार्य क्वारंटाइन की कोई आवश्यकता नहीं है। इस बार कोवाक्सिन लेने वालों को भी यही लाभ देने का फैसला किया गया है।

WHO  3 नवंबर तक लेगा फैसला

Advertisement

तीसरे परीक्षण के अंत से पहले आपातकालीन आधार पर भारत में कोवाक्सिन वैक्सीन को प्रशासित करने की अनुमति दी गई थी। लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन की मंजूरी के बिना कोवाक्सिन की खुराक लेने वाले लोगों को विदेश जाने में दिक्कत होती थी। इस साल 19 अप्रैल को भारत ने बायोटेक की ओर से विश्व स्वास्थ्य संगठन में आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी के लिए आवेदन किया था। हालांकि इस महीने के भीतर मंजूरी मिलने की उम्मीद है, लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन की तकनीकी सलाहकार टीम 3 नवंबर को बैठक कर अंतिम प्रकरण की पुष्टि करेगी।

Advertisement