SpreadIt News | Digital Newspaper

बड़ी खबर : कोरोना महामारी शुरू होने के बाद पहली बार मुंबई में एक भी कोविड मरीज की नहीं हुई मौत

मुंबई : पिछले साल से कोरोना महामारी ने दुनियाभर में तबाही मचाई है। खासकर भारत में कोरोना का कहर भयानक रूप में बरसा है। इस बिच एक बड़ी खबर सामने आ रही है।  कल दिन भर में मुंबई में एक भी कोरोना मरीज की मौत दर्ज नहीं हुई।  पिछले साल कोविड शुरू होने के बाद यह पहल मौका है जिस दिन एक भी मौत कोरोना की वजह से नहीं हुई।

मार्च 2020 में देश में महामारी शुरू होने के बाद पहली बार मुंबई ने रविवार को शून्य कोरोनोवायरस मौतों की रिपोर्ट दी । मुंबई कोरोना की दोनों लहरों के दौरान सबसे ज्यादा प्रभावित था। मुंबई में कल 367 नए मामले दर्ज किए गए, लेकिन एक भी मौत नहीं हुई। मुंबई ने 11 मार्च, 2020 को अपना पहला कोरोनावायरस का मामला दर्ज किया था और छह दिन बाद उस वर्ष 17 मार्च को मुंबई में कोरोना की वजह से पहली मौत हुई थी।

Advertisement

बीएमसी के नगर आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने इस बात की सराहना करते हुए कहा: “मुंबई में हम सभी के लिए यह बहुत अच्छी खबर है। मुंबई के सभी डॉक्टर्स और स्टाफ के शानदार उपलब्धि के लिए उन्हें सलाम करता हूं। आइए हम सभी अपने चेहरे पर मास्क बनाए रखें और मुंबई के प्रत्येक नागरिक को टीका लगवाने में मदद करे। “

९७ प्रतिशत से ज्यादा आबादी को मिल चूका है टिका 

Advertisement

उन्होंने यह भी बताया कि मुंबई शहर की 97 प्रतिशत आबादी को टीकों की काम से काम एकल खुराक मिल चुकी है, जबकि 55 प्रतिशत आबादी को दोनों ठीके मिल चुके है। मुंबई में इस समय 5,030 सक्रिय कोरोनावायरस के मामले हैं।

दूसरी लहर में सबसे प्रभावित शहर था मुंबई 

Advertisement

महामारी की दूसरी लहर जब जोरो पर थी तब मुंबई में एक ही दिन में 11,000 से अधिक संक्रमणों के साथ, कोविड मामलों और मौतों में तेजी से वृद्धि देखी गई थी। शहर में 4 अप्रैल, 2021 को सबसे ज्यादा 11,163 मामले दर्ज किए गए थे और इस साल 1 मई को सबसे ज्यादा 90 लोगों की मौत हुई थी। कुल मिलाकर राज्य ने दूसरी लहर के बाद से पिछले महीनों में संक्रमण की संख्या में लगातार वृद्धि देखी है।

Advertisement